शनि राशिफल गोचर फल 2020

शनि राशिफल गोचर फल 2020 (Saturn Transit 2020)

मेष राशी: से शनि दशम भाव में संचार करेंगे अतः संघर्ष एवं विघ्नों के बावजूद निर्वाह योग्य आय के साधन बनते रहेंगे, यदि शुभ एवं कारक ग्रहों की दशा चल रही है तो पदोन्नति, धन लाभ, उच्च विद्या में सफलता और यदि आप संगीत कला या खेल आदि से जुड़े है तो इस साल बेशक विलम्ब से ही सही मगर सफलता अवश्य मिलेगी, शेयर मार्किट से भी धीमी गति से मगर लाभ होगा, प्रेम संबंधों में प्रगाड़ता बढ़ेगी, संतान पक्ष की तरफ से सुखद समाचार मिलेंगे, किन्तु अशुभ अकारक ग्रहों की दशा में व्यापार में साझेदार से मनमुटाव, सरकारी कार्यों में विघ्न, नौकरी में भी बदलाव के संकेत मिल रहे हैं, अचानक बदनामी, विवाहिक जीवन में मुश्किलें, स्वास्थ्य सम्बन्धी कष्ट खासकर जोड़ों में तकलीफ होगी उपाय: मांस-मदिरा से दूर रहें

वृषभ राशी: से शनि नवं यानि भाग्य स्थान में संचार करेंगे शुभ ग्रहों की दशा में ज़मीन जायदाद मामलों में सफलता मिलती है खासकर नया घर खरीदने या पुश्तैनी जायदाद मिलने के संकेत बन रहे हैं, परिवार में सुख सम्पन्नता की वृद्धि, खेती आदि कार्यों से लाभ, शिक्षा के क्षेत्र में सफलता के योग, किसी बड़ी परियोजना में सफलता के संकेत मिल रहे हैं, धार्मिक कार्यों में भी बढ़ चढ़ कर भाग लेने के अवसर प्राप्त होते हैं, किन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में पारिवारिक सुख में कमी, नौकरी या कारोबार में बदलाव के संकेत, यात्रा या शिक्षा में रुकावट, भाग्योंनती एवं लाभ प्राप्ति में अडचनें, निकट बंधुओं से तकरार, उपाय: मंदिर में पुजारी जी को पीले वस्त्र भेंट करें

मिथुन राशी: पर शनि की ढैय्या लगेगी, शुभ ग्रहों की दशा में नए नए सरकारी कॉन्ट्रैक्ट मिलने के अवसर प्राप्त होंगे, लेखन-एजेंट-ब्रोकर आदि कार्यों से लाभ, परन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में सेहत सम्बन्धी समस्याएं, यात्रा में मुश्किलें, पिता को कष्ट, घरेलु एवं कारोबारी उलझनें, कोर्ट केस में हार, जायदाद सम्बन्धी मामलों में नुकसान होगा, उपाय: मछलियों को रोज़ आटा डालें

कर्क राशी: से शनि सप्तम भाव में संचार करेंगे, शुभ ग्रहों की दशा में अच्छा धनोपार्जन होगा, आप सभी कार्य ज़िम्मेदारी से निभाएंगे, सरकारी विभाग से भी उत्तम धन लाभ के अवसर प्राप्त होंगे, परिवार में सुख सम्पन्नता की वृद्धि होगी, किन्तु शनि की दृष्टि पड़ने से तथा अशुभ एवं आकारक ग्रहों की दशा में वैवाहिक जीवन में तनाव या विवाह में बाधा, कारोबार में भी बहुत धीमी गति से तरक्की, कोर्ट केस से परेशानी, शिक्षा में अड़चन, सफ़र में परेशानी या नुकसान, साझेदार से अनबन आदि फल प्राप्त होते हैं, उपाय: गौ माता की सेवा से कल्याण होगा

सिंह राशी: से शनि छठे भाव में संचार करेंगे, शुभ ग्रहों की दशा में उच्च पद की प्राप्ति, उत्तम स्वास्थ्य, समाज में मान सम्मान की प्राप्ति होगी, किन्तु यदि पाप या अशुभ ग्रहों की दशा चल रही हो तो आमदनी कम होगी, नौकरी में भी परेशानी, शादी शुदा ज़िन्दगी में तनाव, बॉस से परेशानी, कर्ज में वृद्धि, सेहत सम्बन्धी समस्याएं खासकर हड्डियों सम्बन्धी तकलीफ होगी, उपाय: कंजकों की सेवा करें

कन्या राशी: से शनि पंचम भाव में संचार करेंगे, शुभ ग्रहों की दशा में ध्यान-योग-साधना आदि में रूचि बढ़ेगी, शेयर मार्किट से आशा के विपरीत मगर कम लाभ होगा, किसी बड़ी परियोजना में निवेश के योग, किन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में संतान पक्ष से चिंता, नौकरी में परेशानी, खर्चों से परेशान, दूरस्थ यात्रा के योग, उपाय: कुत्ते की सेवा करें

तुला राशी: पर भी शनि की ढैय्या चल रही है, शुभ ग्रहों की दशा में शेयर मार्किट से उत्तम धन लाभ होगा, नए मित्रो से भी मेल मिलाप और लाभ होगा, सरकारी कार्यों से अछे धन लाभ के अवसर मिलेंगे, किन्तु शनि की दशम दृष्टि पड़ने से तथा पापी या अशुभ ग्रहों की दशा में घरेलु परेशानी, परिवार में अनबन झगडे, ज़मीन जायदाद के मामलों में बिना बात के विलम्ब होगा, दुर्घटना आदि के योग अतः वाहन संभल कर ही चलायें, शिक्षा में भी रुकावट या विघ्न आने के संकेत, उपाय: मजदूरों में खीर आदि वितरित करें

वृश्चिक राशी: पर से साढ़ेसाती उतर जाएगी, शुभ ग्रहों की दशा में खूब धन लाभ होगा, मान सम्मान की प्राप्ति, नौकरी में प्रमोशन, कारोबार में तरक्की, कमीशन एजेंट-दलाली आदि कार्यों से अच्छा धन लाभ होगा, भूमि-मकान-वाहन अदि सुखों में वृद्धि होगी, धर्म-कर्म में रूचि और घर में मांगलिक कार्य संपन्न होंगे, और राजनीती में भी सफलता मिलेगी, किन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में यात्रा आदि में मुश्किलें या विलम्ब होगा, स्थान परिवर्तन के योग, भाई बंधुओं से अनबन, शिक्षा में रुकावटें, उपाय: किसी मजदूर को औजार भेंट करें

धनु राशी पर अभी साढ़ेसाती का प्रभाव बना रहेगा, शुभ ग्रहों की दशा में शिक्षा क्षेत्र में सफलता मिलेगी, विदेश यात्रा के भी योग बन सकते हैं, मान सम्मान, पितृ पक्ष से पूर्ण सुख व् सहयोग मिलेगा, धार्मिक कार्यों में भी बढ़ चढ़ कर भाग लेंगे, किन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में आय कम और खर्च बढ़ेंगे, लेनदेन सावधानी से करें धन फसने के योग बन रहे हैं, पैसा रुक रुक कर आयेगा, खानपान का ध्यान रखें अन्यथा सेहत सम्बन्धी समस्या आ सकती है, उपाय: रोज़ मंदिर में जाकर माथा टेकें

मकर राशी: स्वयं शनि स्वराशी में संचार कर रहे हैं, शुभ ग्रहों की दशा में धन-लाभ, विदेश गमन, भूमि वाहन आदि सुख की वृद्धि होगी, किन्तु अशुभ ग्रहों की दशा में मानसिक परेशानी, सरकारी कार्यों में असफलता, पिता से अनबन, नौकरी अथवा कारोबार में नुकसान, कोर्ट केस में हार या बदनामी, सरकारी अफसर से अनबन, दुर्घटना या ऑपरेशन आदि के योग, उपाय: शनि की चीज़ें जैसे की तेल, उड़द की दाल लोहा आदि का दान करें

कुम्भ राशी: वालों पर शनि की साढ़ेसाती प्रथम चरण पर होगी यानि शनि कुम्भ राशी से द्वादश भाव में संचार करेंगे जिसके फलस्वरूप सरकारी कामों में अडचने आयेंगी, यात्रा आदि में परेशानी, कानूनी उलझने बढेंगी, कारोबार भी धीमी गति से चलेगा, प्रेम संबंधों में असफलता हाथ लगेगी, गलत योजना में पैसे का निवेश हो सकता है जिसके लिए बाद में पछताना पड़े, बंधन योग, शादीशुदा ज़िन्दगी में भी परेशानी बढ़ सकती हैं, सेहत सम्बन्धी समस्या से भी जूझ सकते हैं, उपाय: हॉस्पिटल में मरीजों के लिए फ्री भोजन पानी बाँटें

मीन राशी: से शनि एकादश भाव में संचार करेंगे और मीन राशी पर शनि की दृष्टि भी रहेगी, शुभ ग्रहों की दशा में अच्छा धन लाभ होगा, नौकरी में तरक्की, कर्ज भी बढेगा, मान सम्मान की वृद्धि, राजनीती में सफलता मिलेगी, संतान प्राप्ति में विलम्ब, अशुभ ग्रहों की दशा में संतान पक्ष से चिंता रहेगी, धन-लाभ व् उन्नति के लिए अधिक संघर्ष करना पड़ेगा, मानसिक तनाव भी बना रहेगा, उपाय: मांस-मदिरा से परहेज रखें